C Data Types In Hindi | डाटा टाइप कितने प्रकार के होते हैं ?

C Data Types In Hindi | डाटा टाइप कितने प्रकार के होते हैं ?


आज के इस टॉपिक में बात करेंगे ऐसी में आने वाले डाटा टाइप के बारे में डाटा टाइप के प्रकार कितने होते हैं सैटरडे कितने प्रकार के होते हैं उन प्रकार में क्या-क्या काम होता है। 


C Data Types In Hindi | डाटा टाइप कितने प्रकार के होते हैं ?



वह किन किन चीजों के लिए काम आते हैं उन सारी बातों का विगत वर्षों से आज हम बात करेंगे। 

जिन लोगों को सी के बारे में नहीं पता उन लोगों को प्राथमिक माहिती दे कि यह C कोडिंग लैंग्वेज है इसे आप एप्लीकेशन बनाने में यूज कर सकते हैं। 

 सी लैंग्वेज में कई सारे डेटा टाइप चाहते हैं कई सारे अलग-अलग प्रकार के कोड आते हैं जिसकी मदद से आप एक एप्लीकेशन को बनाने में और प्रोग्राम को रन करने में मदद मिलती है। 

सी लैंग्वेज में 4 डाटा टाइप आती है। 

  •  पहली है- इंटिजर।
  •  दूसरी है- कैरेक्टर। 
  •  तीसरी है- फ्लोट। 
  •  चौथी है- डबल। 

पहली इंटिजर। 

इस डाटा टाइप में हम किसी भी प्लस और माइनस नंबर का इस्तेमाल कर सकते हैं जैसे कि प्लस वन और -1 इसमें आपको से लेकर तक की रेंज मिलती है इंतजार के तीन प्रकार होते हैं साइंड इंटिगर इंटीरियर अनसाइंड इंटिगर। 

दूसरा कैरेक्टर।

की रेंज 127 से लेकर 128 तक होती है कैरेक्टर में आप नंबर का इस्तेमाल नहीं कर सकते इसमें आपको कैरेक्टर्स का इस्तेमाल करना पड़ता है उदाहरण के तौर पर ए बी सी डी जैसे कैरेक्टर का इस्तेमाल करना पड़ता है। 

तीसरी फ्लोट। 

इसमें आपको पॉइंट वाली वैल्यू का चेंज करना पड़ता है इसमें आप किसी भी नॉरमल वैल्यू को नहीं ले सकते जैसे कि एक दो 3 - 1 - 2 - 3 ऐसी बिल्ली का आप इस्तेमाल नहीं कर सकते इसमें आपको 1.2 ,1.4 ऐसी वैल्यू का इस्तेमाल करना पड़ता है। 

चौथी है - डबल।  

इसमें आपको किसी भी वैल्यू का डबल मिलता है इसमें अब जो भी वैल्यू डाले उसे लीव की डबल वैल्यू प्रदान होती है। 



आप कमेंट बॉक्स में अपनी राय छोड़ सकते हैं। 
हमारा आर्टिकल पड़ने के लिए धन्यवाद।
आपका दिन शुभ रहे। 

0 Comments

Post a Comment

If you have any doubts, Please let me know