Phone kaise hack kare | Phone Hack करने के तरीके ? DigiTechHindi

Phone kaise hack kare | Phone Hack करने के तरीके ? DigiTechHindi

फोन हमारा सबसे अच्छा दोस्त ही नहीं, बल्कि सबसे बड़ा दुश्मन भी है। क्योंकि यह हमारे बारे में इतना कुछ जानता है, जितना हम खुद अपने बारे में नहीं जानते। इसीलिए इसकी सुरक्षा हमारी सबसे बड़ी जिम्मेदारी है। लेकिन इसके बावजूद कई लोग फोन की सुरक्षा को लेकर लापरवाही बरतते हैं। जिसकी वजह से उनका Phone Hack हो जाता है। और सारा Data चोरी हो जाता है। उसके बाद उनके Data के साथ क्या-क्या होता है? यह आप सोच भी नहीं सकते। इसीलिए हर स्मार्टफोन यूजर को यह पता होना चाहिए कि आखिर एक Phone को किस तरह Hack किया जाता है? और इससे बचने के लिए क्या-क्या उपाय किए जा सकते हैं। 


Phone kaise hack kare | Phone Hack करने के तरीके ? DigiTechHindi



आपका Phone कभी भी आपकी मर्जी के बिना Hack नहीं हो सकता? जी हाँ, बिल्कुल सही सुना आपने। कोई भी आपकी मर्जी के बिना आपका Phone Hack नहीं कर सकता। और न ही आपका Data चोरी कर सकता है। अब आप कहेंगे कि क्या बकवास कर रहे हो? हम भला क्यों चाहेंगे कि हमारा Phone Hack हो? और हमारा Data चोरी हो। तो इसका जवाब मैं आपको बहुत ही आराम से और विस्तार से दूँगा। साथ ही यह भी बताऊँगा कि Phone को Hack करने के कौन-कौनसे तरीके हैं? और उनसे आप कैसे बच सकते हैं? तो आइए, शुरूआत करते हैं।

Phone Hack क्यों किया जाता है?
कभी न कभी आपके मन में यह सवाल जरूर आया होगा कि आखिर हमारा Phone क्यों और किसलिए Hack किया जाता है? और Hackers को ऐसा करके क्या मिलता है? तो इसके लिए आपको अपने Data की अहमियत समझनी होगी। क्योंकि जब तक आप अपने Data की कीमत नहीं जानेंगे! तब तक आपको Data चोरी का यह खेल समझ में नहीं आएगा।

आपको बताना चाहूँगा कि 21वीं सदी की सबसे मूल्यवान वस्तु अगर कुछ है, तो वह हमारा Data ही है। इसीलिए हैकर्स की नजर हमेशा हमारे Data पर रहती है। क्योंकि यह बहुत महंगा बिकता है।  इसीलिए Hackers हमारे फोन से जो भी Data चोरी करते हैं, उसे बड़ी-बड़ी कंपनियों को बेच देते हैं। और अच्छे पैसे कमाते हैं। वहीं कुछ हैकर्स ऐसे भी होते हैं, जो Victim को Blackmail करके उससे पैसे ऐंठते हैं। यानि कि Private Data को वायरल करने का भय दिखाकर लूटते हैं।

Phone Hack करने के तरीके। 
वैसे तो Phone Hack करने के कई सारे तरीके हैं। लेकिन यहाँ हम सिर्फ उन्हीं तरीकों के बारे में बात करेंगे, जो सबसे ज्यादा इस्तेमाल किए जाते हैं। आपको बताना चाहूँगा कि ज्यादातर Hackers इन्हीं तरीकों का इस्तेमाल करते हैं।

आमतौर पर किसी Phone को हैक करने के लिए उसमें कोई न कोई App या Virus जरूर डाला जाता है। लेकिन User को इसकी भनक तक नहीं लगती। क्योंकि इस तरह के Virus अक्सर छुपकर काम करते है। और अपने पीछे कोई निशान नहीं छोड़ते। जैसा कि पिछले दिनों Agent Smith Virus के केस में हुआ था। इस Virus ने भी इतनी सफाई से काम किया कि Users को पता ही नहीं चला कि उनके फोन में कोई Virus है।

दरअसल इस तरह के Virus फोन में इंस्टॉल होते ही पूरी तरह से गायब जाते हैं। यानि कि अपने आप को छुपा लेते हैं। और Background में चुपचाप अपना काम करते रहते हैं। इसीलिए इन्हें पहचान पाना काफी मुश्किल होता है। लेकिन सवाल यह है कि ये Virus हमारे फोन में आते कैसे हैं? तो इसके कई सारे तरीके हैं। पेश हैं कुछ Popular तरीके…

1. Malicious Apps
Malicious Apps उन ऐप्स को कहा जाता है, जो किसी Virus से संक्रमित होती हैं। इस तरह की ऐप्स में खतरनाक Malwares और दुर्भावनापूर्ण Codes छिपे होते हैं, जो Victim के Phone पर कब्जा जमा लेते हैं। और फोन से Data चोरी करके Hacker को भेज देते हैं। लेकिन Victim को इस बात का पता नहीं चलता। RAT, Trojan Horse और Ransomware इसी तरह के Malwares हैं।

आमतौर पर इस तरह की Apps किसी Third Party App Store या किसी Website के जरिए उपलब्ध करवाई जाती हैंं। क्योंकि Official App Stores पर इन्हें Allow नहीं किया जाता। इसीलिए इन ऐप्स को काफी रोचक और मनोरंजक बनाया जाता है। ताकि ज्यादा से ज्यादा लोग इन्हें Download करें। और अपनी मर्जी से डाउनलोड करें। वहीं कई बार इन Apps को डाउनलोड करवाने के लिए Rewards और Cash Prizes का भी सहारा लिया जाता है। जिससे कि लोग लालच में आकर इन Apps को बड़ी ही आसानी से Download कर लेते हैं।

2. Phishing
यह पूरी तरह लालच और धोखे का खेल है। इसमें Victim को एक लिंक भेजा जाता है, जिसके साथ एक Message होता है। इस मैसेज में Victim को लालच दिया जाता है। जैसे कि आइफोन, गाड़ी, कैश प्राइज या फिर नौकरी का लालच। साथ ही किसी बड़ी कंपनी का नाम और लोगो इस्तेमाल किया जाता है। ताकि Victim को किसी तरह का कोई शक ना हो। लेकिन जब Victim उस लिंक पर क्लिक करता है, तो वह एक फर्जी Webpage पर पहुंच जाता है। जो कि बिल्कुल असली वेबपेज जैसा होता है। यहाँ Victim को Malicious App डाउनलोड करने के लिए कहा जाता है।

लेकिन इस App का नाम और Description कुछ और होता है। साथ ही App के साथ यह निर्देश लिखा होता है कि इस ऐप को Download करके इस पर Register कीजिए। और अपनी Profile Complete कीजिए। तभी आपको आपका ईनाम या नौकरी (जो भी है) मिलेगी। लेकिन जब Victim उस Malicious App को डाउनलोड करके ओपन करता है तो उससे कई तरह की परमिशन्स मांगी जाती हैंं। और इन परमिशन्स को Allow करते ही Phone Hack हो जाता है।

3. Spam Links
Spam Links के जरिए Phone Hack करना काफी आम बात है। इसके लिए अमूमन Message, Email अथवा Social Media (जैसे कि Facebook, WhatsApp आदि) का इस्तेमाल किया जाता है। इसमें Victim को एक Link भेजा जाता है, जो कि Misspelled अथवा Shorten URL होता है। इसीलिए Victim को पता नहीं चलता कि असल में उस लिंक के पीछे क्या है? लेकिन जब Victim उस लिंक पर क्लिक करता है तो कोई न कोई Infected File या App Download हो जाती है। जो कि फोन के System को हैक कर लेती है।



आप कमेंट बॉक्स में अपनी राय छोड़ सकते हैं। 
हमारा आर्टिकल पड़ने के लिए धन्यवाद।
आपका दिन शुभ रहे।  

0 Comments

Post a Comment

If you have any doubts, Please let me know